728x90 AdSpace

  • Latest News

    Tuesday, July 13, 2010
    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    2 comments:

    सतीश सक्सेना said... July 16, 2010 at 10:34 AM

    कुछ अलग बात तो लगती है ........कुछ कुछ शहरोज़ से ....
    पहचानना आसान नहीं है मगर फिर भी हार्दिक शुभकामनायें !

    S.M.MAsum said... July 16, 2010 at 9:06 PM

    ढूध का जला छास भी फूंक के पीता है. यह उसकी अक्ल है वरना छाछ मुह नहीं जलती सतीश साहेब

    Item Reviewed: We Must take lesson from this movie Rating: 5 Reviewed By: M.MAsum Syed
    Scroll to Top